Mirza Ghalib

ghalib

15 फरवरी : मिर्ज़ा असद उल्लाह खान ग़ालिब पुण्यतिथि

ना था कुछ तो ख़ुदा था , कुछ ना होता तो खुदा होता
डुबोया मुझको होने ने , न होता मै तो क्या होता

हुई मुदद्त की “ग़ालिब ” मर गया पर याद आता हैं
वो हर एक बात पे कहना की यूँ होता तो क्या होता

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s